Dil Ke Dushman Lyrics From Awara Baap [English Translation]

Dil Ke Dushman Lyrics: Presenting the latest song ‘Dil Ke Dushman’ from the Bollywood movie ‘Awara Baap’ in the voice of Asha Bhosle. The song Dil Ke Dushman Lyrics were written by M. G. Hashmat, and the music is composed by Rahul Dev Burman. The film is Directed by Sohanlal Kanwar. It was released in 1985 on behalf of Saregama.The Music Video Features Rajesh Khanna, Meenakshi Seshadri, Madhuri Dixit, Rajan Sippy, Om Parkesh, and Om Shiv Puri.Artist: Asha BhosleLyrics: M. G. HashmatComposed: Rahul Dev BurmanMovie/Album: Awara BaapLength: 5:36Released: 1985Label: Saregama

Dil Ke Dushman Lyrics

दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समाया
दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समाया
याद में उसकी रात को रोए
न वो सोया न हम सोए
दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समाया
दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समाया
याद में उसकी रात को रोए
न वो सोया न हम सोए
दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समायाज़िन्दगी के मोड़ पे हम मिले इस तरह
जैसे एक मुसाफिर पूछे दूजे का पता
ज़िन्दगी के मोड़ पे हम मिले इस तरह
जैसे एक मुसाफिर पूछे दूजे का पता
देख के सोच अब कहा जाना
यही हैं मंज़िल यही हैं ठिकाना
दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समाया
याद में उसकी रात को रोए
न वो सोया न हम सोएजीने को तो अब तक जिए थे अकेले
अच्छे कहा लगते थे दुनिया के मेले
जीने को तो अब तक जिए थे अकेले
अच्छे कहा लगते थे दुनिया के मेले
साथी बिना ज़िन्दगी सजा हैं
दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समाया
याद में उसकी रात को रोए
न वो सोया न हम सोए
दिल के दुसमन पे दिल आया
आँखे मिली तो दिल में समायाआज उनसे मुलाक़ात अपनी हैं दूजी
मिलने की दोबारा जाने क्यों सूझी
आज उनसे मुलाक़ात अपनी हैं दूजी
मिलने की दोबारा जाने क्यों सूझी
क्यों न मुलाकात आगे बदले
अपना अपना दर्द मितले
आँखे मिली तो दिल में समाया
याद में उसकी रात को रोए
न वो सोया न हम सोए
आँखे मिली तो दिल में समाया.

Dil Ke Dushman Lyrics English Translation

दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
याद में उसकी रात को रोए
Weep his night in remembrance
न वो सोया न हम सोए
Neither he slept nor we slept
दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
याद में उसकी रात को रोए
Weep his night in remembrance
न वो सोया न हम सोए
Neither he slept nor we slept
दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
ज़िन्दगी के मोड़ पे हम मिले इस तरह
This is how we met at the turning point of life
जैसे एक मुसाफिर पूछे दूजे का पता
Like a traveler asking the address of another
ज़िन्दगी के मोड़ पे हम मिले इस तरह
This is how we met at the turning point of life
जैसे एक मुसाफिर पूछे दूजे का पता
Like a traveler asking the address of another
देख के सोच अब कहा जाना
Look and think now to be said
यही हैं मंज़िल यही हैं ठिकाना
This is the destination
दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
याद में उसकी रात को रोए
Weep his night in remembrance
न वो सोया न हम सोए
Neither he slept nor we slept
जीने को तो अब तक जिए थे अकेले
He had lived alone until now
अच्छे कहा लगते थे दुनिया के मेले
Fairs of the world seemed good
जीने को तो अब तक जिए थे अकेले
He had lived alone until now
अच्छे कहा लगते थे दुनिया के मेले
Fairs of the world seemed good
साथी बिना ज़िन्दगी सजा हैं
Companions are sentenced to life without parole
दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
याद में उसकी रात को रोए
Weep his night in remembrance
न वो सोया न हम सोए
Neither he slept nor we slept
दिल के दुसमन पे दिल आया
Dil Aya Pe Dusman of Dil
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
आज उनसे मुलाक़ात अपनी हैं दूजी
I have a meeting with him today
मिलने की दोबारा जाने क्यों सूझी
Why did you decide to meet again?
आज उनसे मुलाक़ात अपनी हैं दूजी
I have a meeting with him today
मिलने की दोबारा जाने क्यों सूझी
Why did you decide to meet again?
क्यों न मुलाकात आगे बदले
Why not change the meeting further
अपना अपना दर्द मितले
Get rid of your own pain
आँखे मिली तो दिल में समाया
If the eyes meet, then the heart is absorbed
याद में उसकी रात को रोए
Weep his night in remembrance
न वो सोया न हम सोए
Neither he slept nor we slept
आँखे मिली तो दिल में समाया.
When the eyes meet, the heart is absorbed.

Leave a Comment