Jeevan Jyot Jale Lyrics From Aulad [English Translation]

Jeevan Jyot Jale Lyrics: From “Aulad”. Presenting the latest title song ‘Jeevan Jyot Jale’ in the voice of Kavita Krishnamurthy. The song lyrics were written by Shamsul Huda Bihari and the music is composed by Laxmikant Shantaram Kudalkar and Pyarelal Ramprasad Sharma. It was released in 1987 on behalf of T-Series. This film is directed by Vijay Sadanah.The Music Video Features Jeetendra, Jaya Prada, and Sridevi.Artist: Kavita KrishnamurthyLyrics: Shamsul Huda BihariComposed: Laxmikant Shantaram Kudalkar & Pyarelal Ramprasad SharmaMovie/Album: AuladLength: 5:34Released: 1987Label: T-Series

Jeevan Jyot Jale Lyrics

हुआ सवेरा पंछी
जगे शीतल पवन चले
दाल दाल से किरणे
चलके जीवन ज्योत जले
जीवन ज्योत जले
जीवन ज्योत जले
जीवन ज्योत जलेभोर भई जो मन से पुकारे
भोर भई जो मन से पुकारे
पर्भु जाने उसके द्वार
वो घर फूले फले
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जलेआधा पेट जो खाके रुखा
अपने कंठ को छोड़ के सूखा
आधा पेट जो खाके रुखा
अपने कंठ को छोड़ के सूखा
तुजे की जो प्यास बुझाए
गंगा में वो बहते आये
उसके पांव तले
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जलेजिसका मन ही एक मंदिर हैं
उसका घर भगवान का घर हैं
जिसका मन ही एक मंदिर हैं
उसका घर भगवान का घर हैं
रोज़ जापे जो राम की माला
कोई चिंता पास न आये
सब दुःख दर्द ठाले
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जले
भोर भई जो मन से पुकारे
पर्भु जाने उसके द्वार
वो घर फूले फले
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जले.

Jeevan Jyot Jale Lyrics English Translation

हुआ सवेरा पंछी
Early morning bird
जगे शीतल पवन चले
Wake up with a cool breeze
दाल दाल से किरणे
Rays from dal dal
चलके जीवन ज्योत जले
Let the flame of life burn
जीवन ज्योत जले
The flame of life burned
जीवन ज्योत जले
The flame of life burned
जीवन ज्योत जले
The flame of life burned
भोर भई जो मन से पुकारे
Bhor Bhai who calls from the heart
भोर भई जो मन से पुकारे
Bhor Bhai who calls from the heart
पर्भु जाने उसके द्वार
God is his gate
वो घर फूले फले
That house flourished
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जले
The flame of life burned The flame of life burned
आधा पेट जो खाके रुखा
Half a stomach that eats food
अपने कंठ को छोड़ के सूखा
Leave your throat dry
आधा पेट जो खाके रुखा
Half a stomach that eats food
अपने कंठ को छोड़ के सूखा
Leave your throat dry
तुजे की जो प्यास बुझाए
Quench your thirst
गंगा में वो बहते आये
They flowed in the Ganges
उसके पांव तले
Under his feet
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जले
The flame of life burned The flame of life burned
जिसका मन ही एक मंदिर हैं
whose mind is a temple
उसका घर भगवान का घर हैं
His house is the house of God
जिसका मन ही एक मंदिर हैं
whose mind is a temple
उसका घर भगवान का घर हैं
His house is the house of God
रोज़ जापे जो राम की माला
Pray the garland of Rama every day
कोई चिंता पास न आये
Don’t worry
सब दुःख दर्द ठाले
All the pain
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जले
The flame of life burned The flame of life burned
भोर भई जो मन से पुकारे
Bhor Bhai who calls from the heart
पर्भु जाने उसके द्वार
God is his gate
वो घर फूले फले
That house flourished
जीवन ज्योत जले जीवन ज्योत जले.
Burn the flame of life Burn the flame of life.

Leave a Comment